ज्योतिष सेवाएं

Click here to read in english

पित्र दोष, काल सर्प दोष, मांगलिक दोष

पित्र दोष, काल सर्प और मांगलिक दोष अधिकतर लोगों की कुंडली में होता है और उन लोगों का पूर्ण जीवन इन दोषों के प्रभाव में रहता है ! समय रहते यदि इन दोषों का निवारण न किया जाए तो जीवन भर जातक स्वास्थ्य, करियर और रिश्तो से जुड़ी परेशानिया झेलनी पड़ती है! यदि आपकी कुंडली में भी ये दोष विद्यमान है तो आपको भी तुरंत इन दोषों का निवारण करवा लेना चाहिए ताकि जीवन में आप इन दोषों द्वारा दी गयी परेशानियों से मुक्ति प्राप्त कर सके !

शुभ मुहूर्त का चयन

शुभ मुहूर्त ज्योतिष की एक शाखा है और यह मुहूर्त ज्योतिष के रूप में जाना जाता है, किसी भी महत्वपूर्ण व्यक्तिगत या व्यावसायिक काम शुरू करने के लिए शुभ समय का चयन किया जाता है , ताकि शुरू किये गए कार्य में सफलता प्राप्त की जा सके ! मेरे व्यक्तिगत अनुभव में किसी भी अशुभ समय में शुरू किया जाने वाला कार्य कभी भी सफल नहीं सकता , उस कार्य में नुक्सान ही होता है ! उसकी जगह यदि कोई भी कार्य शुभ मुहूर्त में किया जाए तो निश्चित ही उस कार्य में सफलता के योग प्रबल हो जाते है ! किसी भी महत्वपूर्ण गतिविधियों, जैसे ग्रेह प्रवेश, व्यापार , नौकरी, नई निर्माण, चिकित्सा सर्जरी, कानूनी मामलों, रत्न पहनें आदि में, समृद्धि, नाम और प्रसिद्धि प्राप्त करने हेतु शुभ मुहूर्त प्रयोजन की आवश्यक है !

कुंडली मिलान और गुण मिलान

गुण मिलान या कुंडली मिलान शायद भारत में सबसे महत्वपूर्ण बात है जबकि पश्चिमी देशों में भी कुंडली मिलान आज कल शादी के लिए जरुरी हो गया है ! ज्यादातर परिवार पंडित जी या किसी ज्योतिषी के पास लड़के और लड़की दोनों की कुंडली मिलान के लिए जाते है! ज्यादातर पंडित जी सिर्फ गुण मिलान करके ही फैसला कर लेते की शादी अच्छी रहेगी या नहीं! लेकिन मेरे अनुभव से ऐसा करना ठीक नहीं है क्योकि मैंने आपने कार्य काल में ऐसी सेकड़ो शदिया देखि है जिनके ३६ में से ३० गुण मिलने के बावुजूद तलाक हो गए और ऐसी भी शादियां देखि है जिनके सिर्फ १७ या १८ गुण मिलने के बावुजूद कई वर्षो शादिया अच्छी चल रही है ! गुण मिलान करना आवश्यक है परन्तु गुण मिलान के अलावा दोनों कुंडलियों का अच्छी तरह से निरक्षण भी अति आवश्यक है ! कुंडली में उन दोषों का निवारण करना अति आवश्यक है जो अपने दुश प्रभाव से आपसी संबंधो में बाधा उत्पन्न करते है !

प्यार और शादी की समस्याएं

हर कोई आपने जीवन में आपने संबंधो, शादी और प्यार के बारे में जानना चाहता है! क्या आपको अपना पसंदीदा साथी मिल सकेगा? अगर हाँ तो कब मिलेगा? आपका सम्बन्ध कैसा रहेगा? क्या आप की शादी किसी अमीर घराने में होगी? क्या आप अपनी शादी से खुश रहेंगे या आप को प्यार में धोखा मिलेगा? इतने रिश्ते आने के बाउजुद आपकी शादी तय क्यों नहीं हो रही? आपको इन सभी सवालों के जवाब वैदिक ज्योतिष की मदद से मिल सकते है, तथा आपकी कुंडली में शादी और संबंधो के खराब दोषों को जाने तथा उनका निवारण कर उन समस्याओं से मुक्ति प्राप्त करें!

शुभ रत्नों का चयन

आज कल ज्यादातर लोग अपने वव्यस्थ जीवन के चलते ज्योतिष के सभी उपायों को पूर्ण रूप से नहीं कर पाते ! वैदिक ज्योतिष में नों रत्न एक मात्र ऐसा उपाय है जिनके द्वारा आसानी से ग्रहों की परेशानियों से मुक्ति प्राप्त कर सकते है ! किसी भी रत्न को धारण करने के लिए , कुंडली का सही प्रकार से निरिक्षण अति आवश्यक है ! करियर, व्यापार, पैसा, प्यार, शादी, और जिन्दगी में से जुड़े सभी क्षेत्रो में कामयाबी प्राप्त करने के लिए रत्नों को धारण किया जाता है! रत्न सेवा के अंतर्गत आप जान सकते है की आपकी कुंडली के अनुसार आपको किस रत्न को धारण करना चाहिए !

स्वास्थ्य समस्याएँ

आज की दुनिया में हर कोई अच्छा स्वास्थ्य चाहता है क्योंकि बिना अच्छे स्वास्थ्य के कोई भी अपने जीवन का आनंद नहीं ले सकता ! जीवन के हर पहलू का आनंद लेने के लिए, सभी को अच्छे स्वास्थ्य की जरूरत होती है, आपके पास बहुत धन होने के बावजूद आपकी बीमारी की वजह से आपको सादे भोजन और महंगी दवाइयों पर निर्भर रहना पड़ता है आप उन सभी व्यंजनों का स्वाद नहीं ले सकते जो आपको तहे दिल से पसंद है! कई बार पूरी ज़िन्दगी काम करने के बाद वृद्ध अवस्था में कुछ ऐसे रोग लग जाते है जिनकी वजह से बाकी की ज़िन्दगी चारपाई पर ही निकल जाती है ! अगर आपको आपकी जिंदगी में होने वाले रोगों का पहले से ही पता लग जाए तो ज्योतिषीय उपायों और सावधानियो द्वारा आप अपनी आने वाली जिंदगी को बेहतर बना सकते है और उसका आनंद उठा सकते है! हम अपनी स्वास्थ्य सेवा द्वारा आपकी जनम कुंडली के सभी उन दोषों की जानकारी और उपचार उपलब्ध कराएँगे जिनसे आपको आने वाले जीवन में होने वाले रोगो का खतरा है या जिन रोगों से आप वर्तमान में प्रभावित है!

शिक्षा की समस्याएं

आज अच्छी शिक्षा हर इंसान की सबसे बड़ी जरुरत बन चुकी है क्योंकि आप या आपके बच्चे का पूरा भविष्य अच्छी शिक्षा पर निर्भर करता है. आप अच्छे से अच्छे स्कूल और कोलज का चयन करते है और ज्यादा से ज्यादा पैसा खर्च करते है और बहुत म्हणत करने के बाउजुद भी अच्छे परिणाम प्राप्त नहीं कर पाते ! आखिर क्या कारण छुपे है इन सब परिशानियों के पीछे ? क्या कभी आपने जानने की कोशिश करी है की कोनसे ज्योतिषीय दोष आपकी कुंडली में मोजूद है जिनके कारण आपको ऐसे परिणाम भुगतने पढ़ रहे है ! आप हमारी इस सेवा के द्वारा अपनी कुंडली के उन योगो के बारे में जान जो आपकी शिक्षा में अवरोध उत्त्पन्न कर रहे है और वादिक ज्योतिष के उपायों द्वारा उनका निवारण भी कर सकते है !

व्यापार और करियर की समस्याएं

आज के युग में हर इंसान अपने जीवन को कामयाब बनाने के लिए कढ़ी मेहनत कर रहा है लेकिन सभी को कामयाबी नहीं मिल पाती बल्कि कुछ लोग ऐसे किस्मत वाले होते है जिन्हें बिना कढ़ी मेहनत के भी आसमान की उचाईयों को छूने का मोका मिल जाता है ! दरअसल उन जातको की कुंडली मई बने शुभ योग उन्हें उन उचियों तक पहुचने में मदद करते है और अशुभ योग सिर्फ नाकामयाबी की और धकेलते है ! वैदिक ज्योतिष के सही मार्गदर्शन से आप अपने करियर और व्यापर सम्बन्धी सभी दोषों का समय रहते निवारण कर सकते है और अपने अमूल्य समय को नष्ट होने से बचा सकते है !

लेखक सुनील कुमार

It's only fair to share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedInPrint this pageEmail this to someone