मंगल छ्टे भाव में

Click here to read in english

मंगल यदि कुंडली के छ्टे भाव में स्थित हो तो यह जातक को अच्छे फल देता है ! व्यक्ति का कद और शारीरिक क्षमता अच्छी होती है इसीलिए छ्टे भाव में स्थित मंगल के कारण जातक, पुलिस और सेना में जाता है ! परन्तु यदि किसी पाप ग्रेह का प्रभाव हो तो ऐसा व्यक्ति गुंडा मवाली बन सकता और किसी अन्य व्यक्ति पर हथियार से वार कर सकता है ! छ्टे भाव में यदि मंगल स्थित हो तो जातक के दुशमन अधिक होते है तथा वे हमेशा जातक को नुक्सान पहुचाने का पर्यास करते रहते है ! यदि किसी सरकारी मुलाजिम की कुंडली के छ्टे भाव में मंगल हो तो वह रिश्वतखोर होता है और वह इतनी आसानी से कभी पकड़ा नहीं जाता ! जातक की कुंडली में मंगल पर यदि शनि का प्रभाव हो तो दुश्मन द्वारा किसी धारदार हथियार से हमला होने की आशंका होती है !

नोट :- उपरोक्त लिखे गए सभी फल वैदिक ज्योतिष और शास्त्रों के आधार पर लिखे गए है ! सभी बारह लग्नो के आधार और अन्य ग्रहों की स्थति के आधार पर फल बदल सकते है !

लेखक  ज्योतिषी सुनील कुमार

Next मंगल सातवे  भाव में  

Precious मंगल पाचवे भाव में 

 

 

It's only fair to share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedInPrint this pageEmail this to someone