sun-in-ninth-house

सूर्य नौवे भाव में

Click here to read in english

यदि कुंडली के नौवें भाव में शुभ सूर्य की स्थिति हो तो सूर्य शुभ फलों की प्राप्ति करवाता है ! इस भाव में सूर्य जातक को धर्म में रूचि नहीं लेने देता परन्तु ख्याति अवश्य देता है ! जातक के बचपन में पिता से मतभेद रहते है परन्तु बाद में पिता से अच्छे सम्बन्ध अवश्य बनते है ! यदि सूर्य नौवे भाव में बुध के साथ बुधादित्य योग का निर्माण करे तो व्यक्ति ज्योतिष के कार्य में ख्याति प्राप्त कर सकता है ! इस भाव में स्थित सूर्य सेना अथवा इंजिनियरिंग करवाता है ! यदि चतुर्थेश बलि हो तो यह सूर्य उच्च वाहन का भी सुख देता है !

नोट :- उपरोक्त लिखे गए सूर्य के बारह भावो के फल वैदिक ज्योतिष और शास्त्रों के आधार पर लिखे गए है ! कुंडली के बारह लग्नो के आधार पर सूर्य के भाव फल में विभिन्नता हो सकती है !

लेखक

ज्योतिषी सुनील कुमार

अगला अध्याय – सूर्य दशम भाव में 

पिछला अध्याय – सूर्य आठवे भाव में 

It's only fair to share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedInPrint this pageEmail this to someone