SUN IN NINTH HOUSE OF HOROSCOPE

सूर्य के प्रभाव कुंडली के नौवे भाव में

वैदिक ज्योतिष के अनुसार सूर्य कुंडली के नौवे भाव में क्या फल प्रदान करता है तथा उसके मानव जीवन पर क्या प्रभाव पड़ते है ?

यदि कुंडली के नौवें भाव में शुभ सूर्य की स्थिति हो तो सूर्य शुभ फलों की प्राप्ति करवाता है ! इस भाव में सूर्य जातक को धर्म में रूचि नहीं लेने देता परन्तु ख्याति अवश्य देता है ! जातक के बचपन में पिता से मतभेद रहते है परन्तु बाद में पिता से अच्छे सम्बन्ध अवश्य बनते है ! यदि सूर्य नौवे भाव में बुध के साथ बुधादित्य योग का निर्माण करे तो व्यक्ति ज्योतिष के कार्य में ख्याति प्राप्त कर सकता है ! इस भाव में स्थित सूर्य सेना अथवा इंजिनियरिंग करवाता है ! यदि चतुर्थेश बलि हो तो यह सूर्य उच्च वाहन का भी सुख देता है !

नोट :- उपरोक्त लिखे गए सूर्य के बारह भावो के फल वैदिक ज्योतिष और शास्त्रों के आधार पर लिखे गए है ! कुंडली के बारह लग्नो के आधार पर सूर्य के भाव फल में विभिन्नता हो सकती है !

लेखक

ज्योतिषी सुनील कुमार

अगला अध्याय – सूर्य दशम भाव में 

पिछला अध्याय – सूर्य आठवे भाव में