मंगल के प्रभाव कुंडली के बारहवे भाव में

Results of Mars in twelfth house of horoscope, according to vedic astrology.

यदि मंगल कुंडली के बारहवे भाव में स्थित हो तो जातक मुर्ख, उग्र और झगडालू किस्म का होता है ! नेत्र रोगी और अत्यंत खर्चीले किस्म का होता है ! बारहवे भाव में मंगल की स्थिति के कारण मांगलिक दोष का निर्माण होता जिसके फलस्वरूप जातक को जीवन साथी का वियोग सहना पड़ता है !… Continue reading मंगल के प्रभाव कुंडली के बारहवे भाव में

मंगल के प्रभाव कुंडली के ग्यारहवे भाव में

What are effects of planet Mars when placed in eleventh house of horoscope and what remedies should be done ?

यदि कुंडली के ग्यारहवे भाव में मंगल स्थित हो तो जातक क्रोधी, कटु भाषा का प्रयोग करने वाला , झगडालू किस्म का होता है, परन्तु वह हमेशा न्याय की बात करता है ! ग्यारहवे भाव में मंगल की स्थिति के कारण जातक आर्थिक रूप से सक्षम होता है ! ऐसे व्यक्ति को कई बार पैत्रिक… Continue reading मंगल के प्रभाव कुंडली के ग्यारहवे भाव में

मंगल के प्रभाव कुंडली के दसवे भाव में

Results of mars in tenth house of horoscope according to vedic astrology

यदि मंगल कुंडली के दसवे भाव स्थित हो तो जातक यशवान, आर्थिक रूप से सक्षम, उच्च स्तर का के वाहन का सुख भोगने वाला तथा समाज में सम्मानित होता है ! ऐसा व्यक्ति बहुत स्वाभिमानी होता है, व्यापर हमेशा किसी के अधीन होकर नहीं करता, स्वयं के प्रयासों द्वारा जातक जीवन में आगे बढता है… Continue reading मंगल के प्रभाव कुंडली के दसवे भाव में

मंगल के प्रभाव कुंडली के नौवे भाव में

What are effects of planet Mars when placed in ninth house of horoscope and what remedies should be done ?

यदि कुंडली के नौवे भाव में मंगल स्थित हो तो जातक एक उच्च अधिकारी बन सकता है ! यदि सूर्य की स्थिति अच्छी हो तो जातक एक नेता का पद प्राप्त कर सकता है ! जातक की पंद्रह वर्ष की आयु के पश्चात् पिता की तरक्की होती है ! परन्तु नौवे भाव के मंगल के… Continue reading मंगल के प्रभाव कुंडली के नौवे भाव में

मंगल के प्रभाव कुंडली के आठवे भाव में

What are effects of planet Mars when placed in eight house of horoscope and what remedies should be done ?

यदि कुंडली के आठवे भाव में मंगल स्थित हो तो वह भी मांगलिक दोष से पीड़ित होता है, यह दोष विशेषकर जातक के जीवन साथी के लिए अनिष्टकारी होता है ! आठवे भाव के मंगल के प्रभाव से जीवन साथी का विछोह सहना पड़ता है ! इस मंगल के जातक अधिकतर रोग्रस्त रहते है !… Continue reading मंगल के प्रभाव कुंडली के आठवे भाव में